?>

इराक़ और लेबनान के ख़ास हालात में अपने ज़हरीले तीर चला रहे हैं अमरीका और उसके घटक+कार्टून

इराक़ और लेबनान के ख़ास हालात में अपने ज़हरीले तीर चला रहे हैं अमरीका और उसके घटक+कार्टून

इराक़ और लेबनान की हालिया घटनाओं के बारे में यह तो नहीं कहा जा सकता कि क्षेत्र के भीतर और क्षेत्र के बाहर के खिलाड़ियों की गतिविधियों को हम जन प्रदर्शनों के रूप में देख रहे हैं। दरअस्ल इन घटनाओं की दो अलग अलग तहें हैं जो एक दूसरे से जुड़ी हुई हैं।

पश्चिमी एशिया का इलाक़ा पिछले बीस साल के दौरान जो रूप धारण करता रहा है और जिस दिशा में आगे बढ़ता रहा है वह अमरीका और उसके घटकों की इच्छा और सपने वाले मध्यपूर्व से पूर्णतः भिन्न बल्कि उसके पूर्णतः उलट है। मध्यपूर्व में अमरीका के लिए गुंजाइश कम होती जा रही है, उसके घटक कमज़ोर हो रहे हैं जबकि शक्ति का संतुलन ईरान की केन्द्रीय भूमिका वाले इस्लामी प्रतिरोधक मोर्चे के पक्ष में झुकता जा रहा है। इस नए रुजहान से अमरीका और उसके घटक बेहद परेशान हैं और जन प्रदर्शनों, राजनैतिक, जातीय, सांप्रदायिक हर प्रकार के विवाद में कूद कर उसे बढ़ाने और हालात का रुख अपने पक्ष में बदलेन की कोशिश करते हैं। इस कोशिश की झलक प्रदर्शनों के दौरान पेश आने वाली असामान्य घटनाओं में स्पष्ट रूप से देखी जा सकती है।


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*