?>

इराक़ी प्रधानमंत्री के आवास पर हमला करने वाले ड्रोनों के उड़ने की जगह का पता चल गयाः ब्रिगेडियर यहिया रसूल

इराक़ी प्रधानमंत्री के आवास पर हमला करने वाले ड्रोनों के उड़ने की जगह का पता चल गयाः ब्रिगेडियर यहिया रसूल

इराक की सशस्त्र सेना के प्रवक्ता ने एलान किया है कि इस देश के प्रधानमंत्री के आवास पर जिन ड्रोनों ने हमला किया था उनके उड़ने की जगह का पता लगा लिया गया है।

ब्रिगेडियर जनरल यहिया रसूल ने बताया है कि चूंकि ये ड्रोन बहुत निचाई पर उड़ रहे थे इसलिए राडार इनका पता नहीं लगा सका। उन्होंने बताया कि इराकी प्रधानमंत्री मुस्तफ़ा अलकाज़ेमी के आवास पर जिन दो ड्रोनों ने हमला किया था वे बगदाद के पूर्वोत्तर में 12 किलोमीटर की दूरी पर स्थित क्षेत्र से उड़े थे।

उन्होंने कहा कि अमेरिकी दूतावास पर तैनात डिफेन्स सिस्टम सीरम इसलिए सक्रिय नहीं हुआ क्योंकि ये दोनों ड्रोन दूतावास के निकट से नहीं उड़े थे कि वह इनका मुकाबला करता। इसके अलावा ये ड्रोन बहुत निचाई पर उड़ रहे थे जिसकी वजह से वे राडार पर नहीं आ सके।

इराकी सेना के प्रवक्ता ने बल देकर कहा कि समस्त जगहों पर सुरक्षा बल पूरी तरह चौकस हैं और लोगों के संतोष के लिए सुरक्षा बलों की तैनाती एक सामान्य बात है और अगर किसी सरकारी केन्द्र को निशाना बनाया जाता है तो हम खामोश नहीं बैठेंगे।

ज्ञात रहे कि इराक के प्रधानमंत्री मुस्तफ़ा अलकाज़ेमी ने भी कल शाम को कहा था कि जिन लोगों ने ड्रोन हमला किया हम उन्हें बहुत अच्छी तरह पहचानते हैं और उन्हें अपमानित करेंगे।

इराकी सरकार ने कल सुबह एक विज्ञप्ति जारी करके एलान किया था कि बगदाद में इराकी प्रधानमंत्री मुस्तफा अलकाज़ेमी के आवास पर बम रख गये ड्रोन से हमला हुआ था जिसमें प्रधानमंत्री को कोई क्षति नहीं पहुंची। जिस समय इराकी प्रधानमंत्री के आवास पर हमला हुआ था उस वक्त वह अपने आवास पर नहीं थे।

हमले के थोड़ी देर के बाद इराकी प्रधानमंत्री ने ट्वीट करके अपनी सलामती की सूचना दी थी और लोगों से संयंम से काम लेने की अपील की थी। 


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*