?>

आपसी मतभेदों के कारण मुल्ला बरादर ने काबुल छोड़ा

आपसी मतभेदों के कारण मुल्ला बरादर ने काबुल छोड़ा

तालेबान सरकार के उप प्रधानामंत्री मुल्ला अब्दुल ग़नी बरादर के बारे में कहा जा रहा है कि आपसी मतभेदों के कारण वे काबुल छोड़कर क़ंधार चले गए।

काबुल से प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार मीडिया में यह ख़बर गर्दिश कर रही है कि तालेबान सरकार के उप प्रधानमंत्री मुल्ला बरादर और शरणार्थी मामलों में मंत्री खलीलुर्रहमान हक़्क़ानी के बीच कहासुनी के बाद मुल्ला बरादर ने काबुल छोड़ दिया है।

बताया जा रहा है कि तालेबान की इन नेताओं के बीच पहले वाकयुद्ध हुआ उसके बाद नाराज़ होकर मुल्ला बरादर क़ंधार चले गए।  कुछ सूत्रों का यह कहना है कि मुल्ला बरादर, क़ंधार में तालेबान के एक नेता मुल्ला हेबतुल्लाह से मुलाक़ात करने के लिए क़ंधार गए हैं और जल्द ही काबुल वापस आ जाएंगे।

क़तर के विदेशमंत्री के साथ तालेबान के नेताओं की बैठक में मुल्ला बरादर की अनुपस्थिति के कारण उनके बारे में विरोधाभासी ख़बरे आने लगी थीं। इससे पहले यह बताया गया था कि काबुल में एक झड़प के दौरान मुल्ला बरादर घायल हो गए थे जबकि मीडिया में उनके मारे जाने की भी ख़बरे चल रही थीं।

क़तर में तालेबान के प्रवक्ता नईम वरदक ने मुल्ला बरादर की एक आडियो पेश की थी जिसमें मुल्ला बरादर को यह कहते सुना जा सकता है कि वे पूरी तरह से स्वस्थ्य हैं।  इस वीडियो में उन्होंने अपने घायल होने की ख़बर का खण्डन किया है।


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*