हज़रत अली के शुभ जन्म दिवस पर ईरान समेत दुनिया भर में जश्न + फ़ोटो

बुधवार 13 रजब बराबर, 20 मार्च 2019 को शिया मुसमलानों के पहले इमाम और पैग़म्बरे इस्लाम (स) के उत्तराधिकारी हज़रत अली (अ) का शुभ जन्म दिवस है। वहीं भारत सहित अन्य देशों में 21 मार्च को हज़रत अली का शुभ जन्म दिवस मनाया जा रहा है।

इस शुभ अवसर पर ईरान समेत दुनिया भर के मुसलमान, विशेष रूप से शिया मुसलमान जश्न मना रहे हैं और महफ़िलों एवं सम्मेलनों का आयोजन कर रहे हैं। पैग़म्बरे इस्लाम के चचा हज़रत अबू तालिब के बेटे हज़रत अली (अ) का जन्म पवित्र शहर मक्का में स्थित इस्लाम के सबसे पवित्र धार्मिक स्थल काबे में हुआ था। पैग़म्बरे इस्लाम (स) ने बचपने से ही हज़रत अली (अ) की परवरिश की। पुरुषों में हज़रत अली ने सबसे पहले इस्लाम स्वीकार किया और हर क़दम पर पैग़म्बरे इस्लाम का साथ दिया। हज़रत अली (अ) जीवन भर ज्ञान और इस्लाम के प्रचार-प्रसार के साथ ही इस्लाम के दुश्मनों के साथ होने वाले युद्धों में पैग़म्बरे इस्लाम (स) साथ दिया और दुश्मनों को पराजित किया।

इस वर्ष संयोग से हज़रत अली अलैहिस्सलाम के शुभ जन्म दिवस और नौरोज़ की ईद एक साथ आई है। इसलिए पूरे ईरान में ख़ुशियां दो बराबर हो गईं हैं, ईरान का हर छोटा बड़ा शहर हो या गांव सब दुल्हन की तरह सजे हुए हैं। ईरान के दो मुख्य पवित्र शहर मशहद और क़ुम तो श्रद्धालुओं से भरा हुआ है। हर ओर से केवल एक ही आवाज़ आ रही है “या अली”, लोग एक दूसरे को मुबारकबाद पेश कर रहे हैं। याद रहे कि ईरान में हज़रत अली (अ) के शुभ जन्म दिवस को पिता दिवस और पुरुष दिवस के रूप में मनाया जाता है।


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*

پیام رهبر انقلاب به مسلمانان جهان به مناسبت حج 1440 / 2019
conference-abu-talib
We are All Zakzaky