?>

अमेरिका में व्यापार और इंसान के बीच हारता मानव जीवन! गोलियों की आवाज़ से दहली सुपरमार्केट, कम से कम 10 की मौत

अमेरिका में व्यापार और इंसान के बीच हारता मानव जीवन! गोलियों की आवाज़ से दहली सुपरमार्केट, कम से कम 10 की मौत

अमेरिका के कोलोराडो के बोल्डर स्थित एक सुपरमार्केट में गोलीबारी की घटना में एक पुलिसकर्मी समेत 10 लोग मारे गए और इस मामले में एक संदिग्ध को हिरासत में लिया गया।

प्राप्त रिपोर्ट के मुताबिक़, अमेरिका के कोलोराडो राज्य के बोल्डर की एक सुपरमार्केट में हुई भीषण गोलीबारी की जानकारी पुलिस विभाग ने ट्वीट कर दी है। समचार एजेंसी एपी के अनुसार, इस गोलीबारी में अब तक 10 लोगों के हताहत होने की पुष्टि हो चुकी है। मरने वालों में एक पुलिस अधिकारी भी शामिल है। सुपरमार्केट में हुई अंधाधुंध गोलीबारी में जिस पुलिस अफसर की मौत हुई है, उसका नाम एरिक टैली है। 51 साल के टैली साल 2010 से ही बोल्डर पुलिस के साथ काम कर रहे थे। बोल्डर की पुलिस प्रमुख मारिस हेरॉल्ड ने बताया कि घटना पर सबसे पहले टैली ने ही प्रतिक्रिया दी और वे घटनास्थल पर पहुंचने वाले पहले अफसर थे। उन्होंने कहा कि टैली को बुरी तरीक़े से गोली मार दी गई। हेरॉल्ड ने टैली के कार्य को "साहसी" बताया। इस बीच बोल्डर के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी केरी यामागुची ने बताया कि एक व्यक्ति को हिरासत में लिया गया है और वह घटना के दौरान घायल हो गया और उसका इलाज चल रहा है, साथ ही उन्होंने कहा कि गोलीबारी के पीछे क्या उद्देश्य था इसका अब तक पता नहीं लग सका है।

वारदात के बाद लाइव वीडियो में दिखाया गया कि एक व्यक्ति जो कि अधेड़ उम्र का है, बिना शर्ट के नज़र आ रहा है और उसने हाफ पैंट पहन रखी है। पुलिस उसे सुपरमार्केट से हथकड़ी लगाकर ले जाती दिख रही है। इस व्यक्ति के एक पैर से ख़ून भी बह रहा था। पुलिस ने कहा कि घटना में घायल होने वाला एकमात्र ज्ञात व्यक्ति संदिग्ध है। गोलीबारी की घटना के बाद दर्जनों बख्तरबंद गाड़ियां, एंबुलेंस, स्वाट टीम के सदस्य समेत दर्जनों क़ानून प्रवर्तन कर्मी पहुंच गए। फायरिंग के समय सुपरमार्केट के अंदर मौजूद चश्मदीदों ने कहा कि उन्होंने इमारत के पीछे एक लोडिंग एरिया से भागने से पहले कई बार गोलियों की आवाज़ सुनी। वहीं व्हाइट हाउस की प्रवक्ता जेन साकी ने कहा राष्ट्रपति जो बाइडेन को गोलीबारी के बारे में सूचित किया गया है।

उल्लेखनीय है कि पिछले सप्ताह भी अमेरिका के अटलांटा राज्य में दो जगहों पर गोलीबारी की घटनाएं हुई थी, जिनमें में कम से कम आठ लोग मारे गए थे। वैसे अमेरिकी समाज में गोलीबारी की घटना एक आम सी घटना बनती जा रही है। कोई दिन ऐसा नहीं जाता जब वहां फ़ायरिंग की घटना न हो। बताया जाता है कि हथियारों का कारोबार करने वाली लॉबी अमेरिका में इतनी ज़्यादा मज़बूत है कि अमेरिकी इतिहास का कोई भी राष्ट्रपति आजतक हथियारों के दिन-प्रतिदिन बढ़ते व्यापार को सीमित करने का साहस नहीं जुटा पाया है। राजनीतिक टीकाकारों का कहना है कि जिस भी देश में मानवता से ज़्यादा व्यापार को महत्व दिया जाएगा वहां इस तरह की घटनाओं का होना आम सी बात है।


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*