?>

अफ़ग़ानिस्तान से भागे पायलट, क़तर में अमरीकी छावनी में क्या कर रहे हैं, क्या किसी योजना पर काम कर रहा है अमरीका???

अफ़ग़ानिस्तान से भागे पायलट, क़तर में अमरीकी छावनी में क्या कर रहे हैं, क्या किसी योजना पर काम कर रहा है अमरीका???

अमरीकी समाचार पत्र वॉल स्ट्रीट जरनल ने रिपोर्ट दी है कि अफ़ग़ानिस्तान की वायु सेना के बहुत से पायलटों को जो देश पर तालेबान के क़ब्ज़े के बाद उज़्बेकिस्तान भाग गये थे, क़तर में अमरीकी सैन्य छावनी पहुंचा दिया गया है।

फ़ार्स न्यूज़ एजेन्सी की रिपोर्ट के अनुसार एक अमरीकी मीडिया ने जानकार सूत्र के हवाले से बताया है कि अमरीका और उज़्बेकिस्तान के बीच, अफ़ग़ानिस्तान की वायु सेना के भगौड़े पायलटों को पहुंचाने के लिए समझौता हुआ है।

वॉल स्ट्रीट जरनल ने शनिवार को अपनी रिपोर्ट में कहा गया कि अफ़ग़ान पायलटों की एक टीम पिछले सप्ताह के दौरान उज़्बेकिस्तान से दोहा में मौजूद अमरीकी छावनी पहुंचा दी जाएगी।

अफ़ग़ानिस्तान की राजधानी काबुल पर तालेबान के नियंत्रण के बाद अफ़ग़ानिस्तान की वायु सेना के पायलटों की एक टीम जिसे अमरीकी सैनिकों ने ट्रेनिंग दी थी, डरकर पड़ोसी देश उज़बेकिस्तान भाग गयी थी।

उज़्बेकिस्तान में छिपे अफ़ग़ान पायलटों का ठिकाना

काबुल पर नियंत्रण के बाद तालेबान ने पूर्व राष्ट्रपति अशरफ़ ग़नी की सरकार में काम करने वाले अधिकारियों और सैनिकों के लिए आम माफ़ी का एलान किया था लेकिन फिर भी कुछ पायलटों को अपनी जान का ख़तरा है और वह अपने देश वापस नहीं लौटना चाहते।

वॉल स्ट्रीट जरनल ने बताया है कि तालेबान ने वायु सेना के पायलटों को लौटाने के लिए उज़्बेकिस्तान पर भारी दबाव डाला है।

अभी तक यह पता नहीं चल सकता है कि भागे हुए या छिपे हुए पायलट, दोहा में अमरीकी छावनी पहुंचने के बाद अमरीका जाएंगे या किसी दूसरे देश भेजे जाएंगे।

वॉल स्ट्रीट जरनल की रिपोर्ट के अनुसार कुल मिलाकर 585 लोग 46 विमानों के साथ जिनमें पायलट, परिचालक, कर्मीदल और उनके परिवार के सदस्य हैं, अफ़ग़ानिस्तान से भागकर उज़्बेकिस्तान चले गये थे और अभी भी इस देश में मौजूद हैं।

तालेबान के प्रवक्ता सुहैल शाहीन ने अफ़ग़ान पायलटों से स्वदेश लौटने की अपील करते हुए बल दिया है कि देश और देश की जनता को पुनर्निमाण के लिए उनकी ज़रूरत है।

29 अगस्त को अफ़ग़ानिस्तान की सीमा के निकट स्थित उज़्बेकिस्तान की एक सैन्य छावनी की सैटेलाइट तस्वीर जारी हुई थी और बताया गया था कि अफ़ग़ानिस्तान से भागने वाले पायलट और उनके साथी इसी जगह पर मौजूद हैं।


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*