क्षेत्र का संकट, शीया-सुन्नी टकराव नहीं हैः नस्रुल्लाह

  • News Code : 649191
  • Source : एरिब.आई आर
Brief

लेबनान के हिज़्बुल्लाह संगठन के प्रमुख ने कहा है कि क्षेत्रीय संकट, शीया व सुन्नी टकराव का परिणाम नहीं हैं बल्कि ये क्षेत्र पर क़ब्ज़े के अमरीकी षड्यंत्र का भाग हैं।

लेबनान के हिज़्बुल्लाह संगठन के प्रमुख ने कहा है कि क्षेत्रीय संकट, शीया व सुन्नी टकराव का परिणाम नहीं हैं बल्कि ये क्षेत्र पर क़ब्ज़े के अमरीकी षड्यंत्र का भाग हैं।
सैयद हसन नस्रुल्लाह ने सोमवार की रात लेबनान की राजधानी बैरूत में इमाम हुसैन अलैहिस्सलाम की एक शोक सभा को संबोधित करते हुए कहा कि लीबिया, सीरिया, इराक़ व लेबनान में अशांति केवल राजनैतिक है और इसका शीया व सुन्नी टकराव से कोई लेना-देना नहीं है किंतु राजनैतिक शक्तियां इसे धार्मिक व जातीय मतभेद दर्शाने का प्रयास कर रही हैं ताकि इस माध्यम से अपने अवैध हितों को साध सकें। उन्होंने कहा कि इस्लामी प्रतिरोध के शस्त्रों ने केवल इस्राईल व तकफ़ीरी आतंकियों को निशाना बनाया है जो पूरी दुनिया को तबाह कर देना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि लेबानान के ईसाइयों और सुन्नी मूसलमानों को क्षेत्र की स्थिति की ओर से चौकन्ना रहना चाहिए तथा अपने दायित्वों का निर्वाह करना चाहिए।
हिज़्बुल्लाह संगठन के प्रमुख ने लेबनानी सेना के समर्थन पर बल देते हुए कहा कि ईरान की ओर से बिना शर्त मिल रही सामरिक सहायता को स्वीकार करना लेबनान व पूरे क्षेत्र के हित में है और जो लोग इसका विरोध कर रहे हैं उन्हें इसके परिणामों का दायित्व भी स्वीकार करना चाहिए। सैयद हसन नस्रुल्लाह ने इसी प्रकार लेबनान में राष्ट्रपति के चयन के विषय के संबंध में कहा कि इस प्रकार की अफ़वाहें फैलाई जा रही हैं कि यह विषय, ईरान की परमाणु वार्ता से जुड़ा हुआ है किंतु जो लोग इस प्रकार की बातें कर रहे हैं उन्हें परमाणु वार्ता के बारे में कोई जानकारी नहीं है क्योंकि ईरान ने, अपने परमाणु मामले के साथ किसी भी अन्य विषय की समीक्षा का कड़ाई से विरोध किया है और उसे किसी भी तरह से ब्लैक मेल नहीं किया जा सकता।


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*

आशूरा: सृष्टि का राज़
सुप्रीम लीडर आयतुल्लाह ख़ामेनई का हज संदेश
We are All Zakzaky