फिलीपींस और अमरीका के संबंधों में तनाव, विरोध प्रदर्शन।

  • News Code : 788239
  • Source : अबना
Brief

फिलीपींस के राष्ट्रपति रोड्रिगो डुटार्टे की ओर से अमेरिका से सम्बंध तोड़ने की घोषणा के बाद फिलीपींस के हजारों नागरिकों ने मनीला में सड़कों पर निकल कर अमेरिका के हस्तक्षेप वाली नीतियों की निंदा की और फिलीपींस से अमेरिकी सैनिकों की त्वरित वापसी की मांग की।

अहलेबैत न्यूज़ एजेंसी अबना: फिलीपींस के राष्ट्रपति रोड्रिगो डुटार्टे की ओर से अमेरिका से सम्बंध तोड़ने की घोषणा के बाद फिलीपींस के हजारों नागरिकों ने मनीला में सड़कों पर निकल कर अमेरिका के हस्तक्षेप वाली नीतियों की निंदा की और फिलीपींस से अमेरिकी सैनिकों की त्वरित वापसी की मांग की।
फिलीपींस के निवासियों की मांग थी कि अमेरिका जल्द से जल्द अपनी सेना फिलीपींस से वापस बुलाए हमें अमेरिकी सेना की जरूरत नहीं है। प्रदर्शनकारियों ने ऐसे प्ले कार्ड उठा रखे थे जिन पर लिखा था कि अमेरिकी राष्ट्रपति ओबामा आतंकवादी हैं। प्रदर्शन के दौरान सभी प्रकार की संभावित अप्रिय घटनाओं से निपटने के लिए सैकड़ों की संख्या में सुरक्षा बल तैनात थे।
पिछले कुछ दिनों के दौरान फिलीपींस और अमरीका के संबंधों में काफी तनाव आया है। फिलीपींस के राष्ट्रपति ने अपने हाल के चीन दौरे में औपचारिक रूप से घोषणा की थी कि वह अपने को अमरीका से अलग कर रहे हैं। उन्होंने कहा था कि वह चीन के साथ अपने सभी विवादास्पद मुद्दों खासकर दक्षिण चीन सागर के स्वामित्व के विवाद को बातचीत के माध्यम से हल करेंगे।
फिलीपींस के राष्ट्रपति ने स्पष्ट तौर पर कहा था कि उनका देश किसी से लड़ाई नहीं करेगा इसलिए विदेशी सेनाओं की जरूरत नहीं है। उन्होंने स्पष्ट रूप से कहा है कि अगर मैं कुछ समय और फिलीपींस का राष्ट्रपति रह गया तो अमेरिका और फिलीपींस के बीच जो रक्षा समझौता हुआ है वह भी समाप्त हो जाएगा।


सम्बंधित लेख

अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*

आशूरा: सृष्टि का राज़
सुप्रीम लीडर आयतुल्लाह ख़ामेनई का हज संदेश
We are All Zakzaky