सऊदी अरब और तालिबान आतंकवादियों के संबंधों का पर्दा फाश।

सऊदी अरब और तालिबान आतंकवादियों के संबंधों का पर्दा फाश।

सऊदी राजकुमार मोहम्मद बिन सलमान ने इस बात का स्वीकार किया है कि वह आतंकवादियों को अमेरिका के कहने पर आर्थिक सहायता करता है और तालिबान के बड़े-बड़े केंद्र भी अमेरिका के कहने पर तैयार किए गए हैं

अहलेबैत (अ )न्यूज़ एजेंसी अबनाः प्राप्त सूत्रों के अनुसार अमेरिकी नेशनल सिक्योरिटी अधिकारियों ने दावा किया है कि सऊदी अरब के तालिबान आतंकवादियों के साथ गहरे और क़रीबी संबंध है और इन संबंधों के कारण ही सऊदी अरब तालिबान को बातचीत के लिए तैयार कर सकता है।
अमेरिकी नेशनल सिक्योरिटी अधिकारियों का कहना है कि सऊदी अरब अफ़ग़ान में शांति के लिए एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाने के लिए तैयार हो गया है।
अमेरिकी नेशनल सिक्योरिटी काउंसिल ने अफ़ग़ान में शांति के लिए कोशिशें शुरू कर दी हैं। अफ़ग़ानिस्तान में शांति के लिए सऊदी अरब और संयुक्त अरब अमीरात को भी साथ लिया गया है।
अमेरिका और अफ़ग़ानिस्तान को उम्मीद है कि सऊदी अरब तालिबान आतंकवादियों को शांति की लिए बातचीत के लिए तैयार कर सकते हैं क्योंकि सऊदी अरब आतंकवादियों को बड़ी आर्थिक सहायता करता है।
 ज्ञात रहे कि सऊदी राजकुमार मोहम्मद बिन सलमान ने इस बात का स्वीकार किया है कि वह आतंकवादियों को अमेरिका के कहने पर आर्थिक सहायता करता है और तालिबान के बड़े-बड़े केंद्र भी अमेरिका के कहने पर तैयार किए गए हैं।


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*

conference-abu-talib
सुप्रीम लीडर आयतुल्लाह ख़ामेनई का हज संदेश
We are All Zakzaky