ज़ीज़ान में सऊदी ड्रोन तबाह, जीज़ान पर मीज़ाइली हमले तेज़, सऊदी गठबंधन पीछे हटा

ज़ीज़ान में सऊदी ड्रोन तबाह, जीज़ान पर मीज़ाइली हमले तेज़, सऊदी गठबंधन पीछे हटा

यमनी सेना के सैन्य सूत्रों ने दक्षिणी सऊदी अरब के जीज़ान में सऊदी अरब के एक ड्रोन के मार गिराए जाने की सूचना है।

फ़ार्स न्यूज़ की रिपोर्ट के अनुसार यमनी सेना और स्वयं सेवी बलों की मीज़ाइल एरो स्पेस यूनिट ने जीज़ान के शबका क्षेत्र में इस जासूसी ड्रोन को निशाना बनाया है। यमनी सूत्र ने अभी तक यह नहीं बताया कि यह ड्रोन किस प्रकार का था। यमनी सेना और स्वयं सेवी बल अब तक सऊदी अरब के दर्जनों ड्रोन विमानों को मार गिरा चुके हैं।

दूसरी ओर यमनी सेना और स्वयं सेवी बलों की मीज़ाइल यूनिट ने शनिवार की रात जीज़ान के औद्योगिक क्षेत्र पर बद्र-1 बैलेस्टिक मीज़ाइल से हमला किया। अभी तक इस हमले में होने वाले जानी व माली नुक़सानों के बारे में पता नहीं चल सका है। यमनी सेना और स्वयं सेवी बल के जवान कई बार सऊदी अरब के सैन्य और औद्योगिक क्षेत्रों को मीज़ाइलों से निशाना बना चुके हैं। 

सऊदी अरब के युद्धक विमानों ने यमन के विभिन्न क्षेत्रों पर अपने पाश्विक हमलों का क्रम जारी रखते हुए भीषण बमबारी की। दूसरी ओर यमनी सेना और स्वयं सेवी बलों ने सऊदी अरब के हमलों के जवाब में सऊदी गठबंधन के ठिकों पर हमले करके कई सैनिकों को ढेर कर दिया। सऊदी अरब के युद्धक विमानों ने राजधानी सनआ और पश्चिमी प्रांत सनआ सहित विभिन्न प्रांतों के अनेक आवासीय क्षेत्रों पर बमबारी की है।

अलमसीरा टीवी चैनल की रिपोर्ट के अनुसार यमनी जनता पर पाश्विक हमलों का क्रम जारी रखते हुए सऊदी युद्धक विमानों ने पश्चिमी प्रांत अलहुदैदा के उम्म क़असूस पर बार बमबारी की।

अलहुदैदा के उत्तर में दुरैहमी के उपनगरीय क्षेत्रों में यमनी सेना और स्वयं सेवी बलों और सऊदी हमलावरों के लड़ाकों के बीच भीषण झड़पें हो रही हैं। यह ऐसी हालत में है कि सऊदी गठबंधन के सैनिकों को सऊदी अरब की वायु सेना का भरपूर समर्थन प्राप्त है।

ज़ाफ़रान क्षेत्र में यमनी सेना और स्वयं सेवी बलों के जवानों ने सऊदी सैनिकों के पीछे ढकेलते हुए उन्हें भारी जानी व माली नुक़सान पहुंचाया और उनके 23 सैन्य वाहनों को तबाह कर दिया जिसके बाद सऊदी गठबंधन के सैनिक ज़ाफ़रान के क्षेत्र से पीछे हटने पर विवश हो गये।

अलहुदैदा के तहीता क्षेत्र और इसी प्रकार अलजाह, अलअसफ़ल और अस्समसरा में भी यमनी सेना और स्वयं सेवी बलों के जवानों ने अपने ठिकाने मज़बूत बना लिए हैं।

अलहुदैदा के दक्षिणी क्षेत्रों में भी प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार यमनी सेना और स्वयं सेवी बलों के जवानों की हीस शहर को स्वतंत्र कराने के लिए कार्यवाही जारी है और इस शहर के आरंभिक क्षेत्रों में प्रविष्ट हो गये हैं और उन्होंने अलख़ोख़ा जाने वाले रास्ते को बंद कर दिया है।





अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*

आशूरा: सृष्टि का राज़
सुप्रीम लीडर आयतुल्लाह ख़ामेनई का हज संदेश
We are All Zakzaky