"यहूदी राष्ट्र" के बिल पास होने के विरूद्ध वर्ल्ड अहलेबैत असेम्बली ने जारी किया बयान।

वर्ल्ड अहलेबैत असेम्बली ने इस निर्दयी, नस्लीय और आक्रामक कार्यवाई की निंदा करते हुए, जोर देकर कहा कि फिलीस्तीनी जनता और दुनिया भर के आज़ाद लोग, कुद्स शरीफ और अधिकृत क्षेत्रों की पूरी आजादी तक संघर्ष जारी रखेंगे।

अहलेबैत न्यूज़ एजेंसी अबनाः जायोनी संसद में "यहूदी राष्ट्र" के बिल पास होने के विरूद्ध वर्ल्ड अहलेबैत असेम्बली ने बयान जारी करते हुए  इस निर्दयी, नस्लीय और आक्रामक कार्यवाई की निंदा करते हुए, जोर देकर कहा कि फिलीस्तीनी जनता और दुनिया भर के आज़ाद लोग, कुद्स शरीफ और अधिकृत क्षेत्रों की पूरी आजादी तक संघर्ष जारी रखेंगे।
سم الله الرحمن الرحیم
"وَلَنْ تَرْضَىٰ عَنْكَ الْيَهُودُ وَلَا النَّصَارَىٰ حَتَّىٰ تَتَّبِعَ مِلَّتَهُم؛ قُلْ إِنَّ هُدَى اللَّهِ هُوَ الْهُدَىٰ وَلَئِنِ اتَّبَعْتَ أَهْوَاءَهُمْ بَعْدَ الَّذِي جَاءَكَ مِنَ الْعِلْمِ مَا لَكَ مِنَ اللَّهِ مِنْ وَلِيٍّ وَلَا نَصِيرــ

यहूदी और ईसाई उस समय तक राज़ी नहीं होंगे जब तक आप उनका अनुसरण न करलें तो आप कह दीजिए कि हिदायत का रास्ता केवल अल्लाह का बताया हुआ रास्ता है। और इल्म के आने के बाद उनकी इच्छाओं की पैरवी करेंगे  तो अल्लाह के प्रकोप से बचा पाने वाला कोई मददगार होगा और न कोई सरपरस्त। 

ज़ायोनी राज्य की संसद का ''यहूदी राज्य' के लिए बिल का पास करना, फिलिस्तीन और कुद्स पर क़ब्ज़ा जमाए हुए जायोनियों की नस्लवादी नीतियों का प्रतीक है। इस कानून ने कब्जे वाले क्षेत्रों को यहूदियों की ज़मीन और उनका घर बताते हुए एक स्वाधीन फिलिस्तीनी सरकार के गठन के रास्तों को बंद कर दिया है।


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*

सुप्रीम लीडर आयतुल्लाह ख़ामेनई का हज संदेश
We are All Zakzaky