सुप्रीम लीडर हज़रत आयतुल्लाह ख़ामेनई

अमरीकियों पर भरोसा न करें, मौका मिलते ही पीठ में छुरा घोपने की है अमेरिका को आदत।

अमरीकियों पर भरोसा न करें, मौका मिलते ही पीठ में छुरा घोपने की है अमेरिका को आदत।

ख़बरदार अमेरिका पर कभी भरोसा मत करना उनके सैनिकों के इराक में प्रवेश को रोको, वह अवसर की तलाश में है जैसे ही मौक़ा मिलेगा अमेरिका वार करने से नहीं चूकेगा

अबनाः ईरान सुप्रीम लीडर हज़रत आयतुल्लाह ख़ामेनई ने इराक के प्रधानमंत्री हैदर एबादी से मुलाक़ात करते हुए इराक की एकता, अखंड़ता पर ज़ोर देते हुए दाइश के विरुद्ध मिली सफलता पर बधाई देते हुए कहा है कि इराक की अखंडता एकता बहुत महत्वपूर्ण है । इराकी स्वंयसेवी फोर्स का गठन शुभ संकेत है । ख़बरदार अमेरिका पर कभी भरोसा मत करना उनके सैनिकों के इराक में प्रवेश को रोको, वह अवसर की तलाश में है जैसे ही मौक़ा मिलेगा अमेरिका वार करने से नहीं चूकेगा । सुप्रीम लीडर ने कहा कि अमेरिका और उसके सहयोगी इराक की अखंडता के दुश्मन है वह शक्तिशाली और स्वायत्त एवं संप्रभु इराक के पक्ष में नहीं है । उन्होंने कहा है कि एक समय दाइश बग़दाद के निकट पहुँच गया था लेकिन आज इराक में वह विनाश के कगार पर खड़ा है यह सब इराक की एकता और अखंडता से संभव हो पाया है अपनी एकता और अखंडता को बनाये रखना इराक की अखंडता और एकता के विरुद्ध बोलने वाला इराक राष्ट्र का दुश्मन है । अमेरिका से होशियार रहना वह तुम्हारी फूट का फायदा उठाने की ताक मे है उन्हें सैन्य ट्रेनिंग और सलाहकार के बहाने इराक में आने से रोको । हज़रत आयतुल्लाह ख़ामेनई ने कहा कि अमेरिका और उसके सहयोगी देश दाइश का विनाश नहीं चाहते क्यूंकि इन्ही लोगों ने धन और सैन्य सहायता से इस आतंकवादी संगठन का गठन किया है। यह लोग इराक में ऐसे दाइश को चाहते हैं जो इनके इशारे पर चले इनके इशारे पर हर काम करे । इराकी प्रधानमंत्री ने इस भेंट में दाइश के विरुद्ध युद्ध में ईरान की सहायता पर आभार प्रकट करते हुए कहा है की हम ईरान से अपने संबंधों को और प्रगाढ़ करने के लिए तत्पर हैं । आतंकवाद और दहशतगर्दी से मुक़ाबला करने के लिए इराक के सभी राजनैतिक और धार्मिक दल एकजुटता के साथ खड़े हैं। हम आतंकवाद का समूल विनाश किये बिना चैन से नहीं बैठेंगे ।


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*

सुप्रीम लीडर आयतुल्लाह ख़ामेनई का हज संदेश
We are All Zakzaky