सैय्यद हसन नस्रुल्लाह:

फ़िलिस्तीनी जनता का डिफेंस हमारा कर्तव्य है।

 फ़िलिस्तीनी जनता का डिफेंस हमारा कर्तव्य है।

डोनाल्ड ट्रम्प क़ुद्स को जायोनी शासन की राजधानी बनाने जाने की घोषणा करने के बाद बिल्कुल अकेले हो गए हैं और यह बहुत महत्वपूर्ण बात है जिसे हम सब को ध्यान में रखना चाहिए ट्रम्प समझता है कि अगर क़ुद्स को अपने घमंड के साथ इस्राईल की राजधानी बनाएगा तो पूरी दुनिया यूरोप से चीन तक, अरब देश, मुस्लिम देश, कनाडा और ऑस्ट्रेलिया तक सब उसका पालन करते हुए उसकी बात को मानेंगे लेकिन पता चला कि वह बिल्कुल अकेला है और केवल इस्राईल है जो उसका समर्थन कर रहा है।

अहलेबैत न्यूज़ एजेंसी अबना: हिज़्बुल्लाह लेबनान के जनरल सेक्रेटरी सैय्यद हसन नस्रुल्लाह ने सोमवार को उत्तरी बैरूत के जाहिया क्षेत्र में बैतूल मुकद्दस के समर्थन में होने वाली रैली के समापन पर प्रदर्शनकारियों को संबोधित किया और क़ुद्स को इस्राईल की राजधानी बनाए जाने के बारे में ट्रम्प के निर्णय की कड़ी निंदा की।
सैयद हसन नसरुल्लाह ने अपने भाषण के आरंभ में उन सभी लोगों को सलाम किया जो ट्रम्प के निर्णय के सामने डट गए और उसकी निंदा की उन्होंने गज़्ज़ा, बैतूल मुक़द्दस और फिलिस्तीनी जनता की प्रशंसा की जो ज़ायोनियों के विरुद्ध उठ खड़े हुए हैं।
उन्होंने कहा कि यह लोग मुश्किलों के सामने मुक़ाबला करने के लिए खड़े हुए हैं और चाकू और पत्थर उठा कर अपना, मुसलमानों और ईसाइयों के पवित्र स्थलों का डिफ़ेंस कर रहे हैं।
हसन नसरुल्लाह ने वर्तमान समय में क़ुद्स को इस्राईल की राजधानी बनाए जाने के बारे में डोनाल्ड ट्रम्प के निर्णय के विरुद्ध आज बैरूत में होने वाले विशाल प्रदर्शन और फ़िलिस्तीनी जनता के साथ हमदर्दी जताते हुए उनकी तारीफ करते हुए कहा कि फिलिस्तीनी जनता का डिफेंस हमारा कर्तव्य है और हम उनका सम्मान करते हैं, उनका डिफेंस करते हैं।
उन्होंने कहा डोनाल्ड ट्रम्प क़ुद्स को जायोनी शासन की राजधानी बनाने जाने की घोषणा करने के बाद बिल्कुल अकेले हो गए हैं और यह बहुत महत्वपूर्ण बात है जिसे हम सब को ध्यान में रखना चाहिए ट्रम्प समझता है कि अगर क़ुद्स को अपने घमंड के साथ इस्राईल की राजधानी बनाएगा तो पूरी दुनिया यूरोप से चीन तक, अरब देश, मुस्लिम देश, कनाडा और ऑस्ट्रेलिया तक सब उसका पालन करते हुए उसकी बात को मानेंगे लेकिन पता चला कि वह बिल्कुल अकेला है और केवल इस्राईल है जो उसका समर्थन कर रहा है।
उन्होंने अरब और मुस्लिम देशों से मांग की कि ट्रम्प के निर्णय के विरुद्ध अपने पक्ष को मजबूत बनाएं हिज़बुल्लाह के जनरल सेक्रेटरी ने जोर देकर कहा कि हमें दीनी मराजेअ साथ ही शिया और सुन्नी मराजेए, इंकलाब ए इस्लामी के सुप्रीम लीडर और मिस्र के शेख़ अल अज़हर और ईसाई धर्म गुरुओं के पक्ष का भी शुक्रिया अदा करना चाहिए।
उनका कहना था यमन की जनता आले सऊद गठबंधन की भीषण बमबारी और हमलों के बाद भी सड़कों पर निकल आई और क़ुद्स के साथ अपने समर्थन का ऐलान किया।
उन्होंने कहा हमने इससे पहले भी कहा था कि आईएस के समर्थन से अमेरिका का मकसद यह है कि वह लोगों का ध्यान फ़िलिस्तीन की तरफ से हटाना चाहता है।
सैयद हसन नसरुल्लाह ने कहा कि आइएस और दूसरे तकफ़ीरी, आतंकी टोलों का पैदा करने वाला अमेरिका है और मुसलमानों का पक्ष “अमेरिका मुर्दाबाद” ही होना चाहिए। अमेरिका फ़िलिस्तीन में अमन और सुलह का समर्थक नहीं है बल्कि अमेरिका और उसके पिठुठू साम्राजियों ने इस्राइल को बनाया है और वह आतंकवाद और फ़िलिस्तीन पर इस्राइली कब्जे और उसको हथियाने की साज़िश और फ़िलिस्तीनियों की बर्बादी और फ़िलिस्तीन में फ़ितना फैलाने वालों और शराब पीने वालों का समर्थक है।
उन्होंने कहा के नेतन्याहू पेरिस में बैठकर लेबनान को धमकियां देता है और हम उसे कोई जवाब नहीं देंगे क्योंकि क़ुद्स को बाकी रहना है जो फ़िलिस्तीन की पुरानी और परमानेन्ट राजधानी है हम उसे हरगिज नहीं छोड़ेंगे क़ुद्स वह ज़मीन है जिस के बारे में फ़िलिस्तीनी जनता कह रही है “क़ुद्स जाएंगे और लाखों शहीदों की कुर्बानी देंगे”। उन्होंने कहा हमें इस ख़तरे को कामयाबी में बदलना है।
सैय्यद हसन नस्रुल्लाह ने कहा मैं यकीन के साथ कहता हूं कि ट्रम्प का फ़ैसला इस्राईल के अंत का आरंभ होगा जबकि अमेरिका और इस्राईल चाहते थे कि ट्रम्प का फ़ैसला क़ुद्स के अंत की शुरुआत हो।
उन्होंने अंत में कहा क़ुद्स के बारे में हमारा वर्तमान और बाकी रहने वाला पक्ष यही है कि हम फ़िलिस्तीन के साथ हैं और साथ रहेंगे यहां तक कि मस्जिदुल अक्सा में मुसलमान और वहां की कलीसा में ईसाई अपनी इबादत कर सकें उन्होंने यह भी कहा कि हम फ़िलिस्तीन, क़ुद्स और मस्जिदे अक़्सा को हरगिज़ अकेला नहीं छोड़ेंगे क्योंकि यह पवित्र स्थल वह रहस्य है जिसके लिए इमाम हुसैन अलैहिस्सलाम शहीद हुए हैं।



सम्बंधित लेख

अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*

Quds cartoon 2018
We are All Zakzaky