क्या हक़ीक़त में वॉशिंग्टन में कोई यह बात नहीं समझ पा रहा है कि आईएनएफ़ से निकलने का क्या अंजाम होगा, गोर्बाचोफ़

क्या हक़ीक़त में वॉशिंग्टन में कोई यह बात नहीं समझ पा रहा है कि आईएनएफ़ से निकलने का क्या अंजाम होगा, गोर्बाचोफ़

गोर्बाचोफ़ ने अमरीका को परमाणु समझौते से निकलने के अंजाम की ओर से सचेत किया है।

रूस ने अमरीकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रम्प के शीत युद्ध के दौरान हुए परमाणु समझौते से निकलने के फ़ैसले के अंजाम की ओर से चेतावनी देते हुए कहा है कि ऐसा करने से मौजूदा परमाणु अप्रसार तंत्र फ़ेल हो जाएगा।

ट्रम्प ने शनिवार को यह दावा करते हुए कि रूस ने 1968 में हुए मध्यम दूरी परमाणु शक्ति संधि आईएनएफ़ का उल्लंघन किया है, कहा कि वह इस समझौते से निकलने का इरादा रखते हैं। यह समझौता शस्त्र नियंत्रण का मुख्य समझौता समझा जाता है।

ट्रम्प के इस फ़ैसले की पूर्व सोवियत संघ के राष्ट्रपति मीख़ाईल गोर्बाचोफ़ ने आलोचना की जिन्होंने अपने पूर्व अमरीकी समकक्ष रोनल्ड रीगन के साथ समझौते के अस्ली दस्तावेज़ पर दस्तख़त किए थे।

गोर्बाचोफ़ ने ट्रम्प के क़दम को ग़लत बताते हुए कहा कि इससे ट्रम्प की नासमझी का पता चलता है।

रविवार को रूसी न्यूज़ एजेंसी इंटरफ़ैक्स के अनुसार, गोर्बाचोफ़ ने कहाः "किसी भी हालत में हमें पुराने अप्रसार समझौतों को ख़त्म नहीं करना चाहिए। क्या वास्तव में वॉशिंग्टन में कोई समझ नहीं पा रहा है कि इसका क्या अंजाम होगा? आईएनएफ़ से निकलना ग़लती है।"

गोर्बाचोफ़ ने कहा कि रूस-अमरीका के बीच परमाणु अप्रसार के लिए विगत में हुयी सभी कोशिशों को ट्रम्प नाकाम बना रहे हैं। 


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*

सुप्रीम लीडर आयतुल्लाह ख़ामेनई का हज संदेश
We are All Zakzaky