आयतुल्लाह ख़ामेनई ने दिया भूकंप प्रभावित क्षेत्रों में मदद और राहत पहुँचाने पर बल।

आयतुल्लाह ख़ामेनई ने दिया भूकंप प्रभावित क्षेत्रों में मदद और राहत पहुँचाने पर बल।

सुप्रीम लीडर आयतुल्लाह ख़ामेनई ने अपने संदेश में भूकंप से प्रभावित क्षेत्रों में तत्काल मदद और राहत पहुँचाने पर बल देते हुए कहा है कि सभी सरकारी संस्थान भूकंप से प्रभावित क्षेत्रों में अपनी पूरी कोशिशों से भरपूर मदद पहुँचाने का कार्य करें।

अहलेबैत न्यूज़ एजेंसी अबना: रिपोर्ट के अनुसार सुप्रीम लीडर आयतुल्लाह ख़ामेनई ने अपने संदेश में भूकंप से प्रभावित क्षेत्रों में तत्काल मदद और राहत पहुँचाने पर बल देते हुए कहा है कि सभी सरकारी संस्थान भूकंप से प्रभावित क्षेत्रों में अपनी पूरी कोशिशों से भरपूर मदद पहुँचाने का कार्य करें।
सुप्रीम लीडर ने सेना, सैनिकों, स्वयंसेवी संस्थाओं और रेड क्रास के अधिकारियों पर बल देते हुए कहा है कि पूरी हिम्मत और ताकत के साथ मदद पहुँचाने और राहत प्रक्रिया में भाग लें और घायलों को तत्काल चिकित्सा केन्द्र तक पहुंचाऐं और उनका इलाज करवाने में कड़ी मेहनत और सूझबूझ से काम लें।
सुप्रीम लीडर ने सैन्य और गैर सरकारी संगठनों पर बल दिया है कि भूकंप से प्रभावित क्षेत्रों में राहत दल के साथ भरपूर सहयोग करें।
सुप्रीम लीडर नें भूकंप से प्रभावित लोगों के साथ संवेदना प्रकट करते हुए सरकार को संबोधित करते हुए कहा है कि वह प्रभावित क्षेत्रों में जनता की समस्याओं को कम करने के लिए तत्काल कदम उठाऐ।
ईरान और इराक के सीमावर्ती क्षेत्रों में भूकंप के परिणामस्वरूप मरने वालों की संख्या 328 तक पहुंच गई है जबकि 4000 से अधिक लोग घायल हुए हैं। भूकंप की तीव्रता 7.2 रिकॉर्ड की गई है। उधर इराक़ के कुर्दिस्तान क्षेत्र में भूकंप के बाद कई इमारतें गिर गईं जिन में सैकड़ों लोगों के घायल होने की रिपोर्ट मिली है। सीमा और दूर दराज के क्षेत्र प्रभावित होने के कारण नुकसान की सूचनाऐं धीरे धीरे सामने आ रही हैं यह भी आशंका जताई जा रही है कि मृतकों की संख्या में वृद्धि हो सकती है।




सम्बंधित लेख

अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*

Quds cartoon 2018
We are All Zakzaky