अमेरिका में महिलाओं के प्रति पक्षपाती रवैय्या।

अमेरिका में महिलाओं के प्रति पक्षपाती रवैय्या।

अमेरिकी सरकार की पॉलिसियों के कारण स्वंय उस देश की महिलाओं को दूसरे देशों की तुलना में सबसे अधिक हिंसा और अत्याचार का निशाना बनाया जाता है।

अहलेबैत न्यूज़ ऐजेंसी अबना: रिपोर्ट के अनुसार पूर्व अमेरिकी विदेशमंत्री हिलेरी क्लिंटन ने देश में महिलाओं के साथ अपमानजनक पक्षपाती व्यवहार और अत्याचार को स्वीकार किया।
हिलेरी क्लिंटन ने अपनी किताब व्हाट हैप्पेंड में लिखा है कि 2016 के इलेक्शन में उनकी पराजय का सबसे बड़ा कारण यह था कि वह एक महिला हैं। उन्होंने कहा कि देश में महिलाओं के साथ यौन हिंसा और नफ़रत बड़े स्तर पर प्रचलित है।  
पूर्व अमेरिकी विदेशमंत्री ने बताया कि अमेरिकी राजनीति के मैदान में एक महिला का होना अत्यंत कठिन और अपमानजनक है।
अमेरिकी सरकार पूरी दुनिया में अपनी विरोधी सरकारों को महिलाओं पर होने वाले अत्याचारों के मामले में आलोचना का निशाना बनाती रहती है। लेकिन अमेरिकी सिविल सोसाइटी से संबंधित संस्थाओं की रिपोर्टों से पता चला है अमेरिकी सरकार की पॉलिसियों के कारण स्वंय उस देश की महिलाओं को दूसरे देशों की तुलना में सबसे अधिक हिंसा और अत्याचार का निशाना बनाया जाता है। यौन हिंसा और अमानवीय कृत्यों के अपराध अमेरिका में महिलाओं के विरुद्ध हिंसा का सबसे बुरा उदाहरण हैं।


सम्बंधित लेख

अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*

आशूरा: सृष्टि का राज़
सुप्रीम लीडर आयतुल्लाह ख़ामेनई का हज संदेश
We are All Zakzaky