सिर्फ़ रोहिंग्या मुसलमानों पर ज़ुल्म, म्यांमार पर पाबंदी लगाने का कोई औचित्य नहींः अमेरिकी विदेश मंत्री

सिर्फ़ रोहिंग्या मुसलमानों पर ज़ुल्म, म्यांमार पर पाबंदी लगाने का कोई औचित्य नहींः अमेरिकी विदेश मंत्री

ज्ञात रहे की अमेरिकी विदेश मंत्री का यह बयान ऐसे समय में सामने आया है कि जब अमेरिकी सीनेट के कुछ प्रतिनिधियों ने ट्रंप सरकार से म्यांमार के खिलाफ पाबंदी लगाए जाने की मांग की थी जिसे सरकार लगातार अनदेखा कर रही है।

अहलेबैत (अ )न्यूज़ एजेंसी अबना :  प्राप्त सूत्रों के अनुसार अमेरिकी विदेश मंत्री रेक्स टेलर्सन ने अपने एक बयान में कहा है कि म्यांमार के खिलाफ अभी पाबंदियां लगाने का कोई औचित्य नहीं है। वह समाचार पत्र के प्रतिनिधि से बात कर रहे थे और उनके साथ म्यांमार की राजनीतिक लीडर आंग सान सू ची भी थी, जबकि अंतर्राष्ट्रीय संगठन के अनुसार 25 अगस्त 2017 से अभी तक 6 लाख 17 हज़ार रोहिंग्या मुसलमान सेना की अत्याचार से तंग आकर बांग्लादेश से पलायन करने पर मजबूर हो गए थे।
 अमेरिकी विदेश मंत्री ने मुसलमानों पर हुए अत्याचार की अनदेखी  करते हुए कहा कि किसी पर किसी भी देश पर पाबंदी लगाने से पहले उसके खिलाफ ठोस सबूत होने चाहिए कि इस संकट और नरसंहार में कौन से संगठन या लोग मिले हुए थे, जिससे की पाबंदी लगाने का कोई फ़ायदा हो।
टेलर्सन की यह बात उस समय सामने आई जबकि बांग्लादेश के विदेश मंत्री अबुल हसन महमूद सितंबर में रोहिंग्या मुसलमानों पर जुल्म के सभी सबूत अमेरिका को सौप चुके हैं।
 ज्ञात रहे की अमेरिकी विदेश मंत्री का यह बयान ऐसे समय में सामने आया है कि जब अमेरिकी सीनेट के कुछ प्रतिनिधियों ने ट्रंप सरकार से म्यांमार के खिलाफ पाबंदी लगाए जाने की मांग की थी जिसे सरकार लगातार अनदेखा कर रही है।
 


सम्बंधित लेख

अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*

Arba'een
आशूरा: सृष्टि का राज़
सुप्रीम लीडर आयतुल्लाह ख़ामेनई का हज संदेश
We are All Zakzaky