अफ़ग़ानिस्तान में शिया उल्मा की टारगेट किलिंग का सिलसिला जारी

अफ़ग़ानिस्तान में शिया उल्मा की टारगेट किलिंग का सिलसिला जारी

हरात की कम्युनिटी ने तकफ़ीरी आतंकवादियों के हाथों शिया विद्वानों की टार्गेट किलिंग के ख़िलाफ़ प्रदर्शन शुरू किया है जिसमें शामिल होने वालों का कहना है कि काबुल सरकार ने तकफ़ीरियों को खुली छूट दी हुई है, जबकि विद्वानों के क़ातिलों को सज़ा देने के मामले में सरकार ख़ामोश है।

अहलेबैत (अ )न्यूज़ एजेंसी अबना : प्राप्त सूत्रों के अनुसार अफ़ग़ानिस्तान के हरात में विद्वान आयतुल्लाह हकीम के प्रतिनिधि और हिकमत रेडियो के संस्थापक शैख़ मुहम्मद जाफ़र तूकली को सादिक़ नामक क्षेत्र में गोली मारकर शहीद कर दिया गया।

 हरात के पुलिस प्रवक्ता अब्दुलअहद वलीज़ादह ने शैख़ तूकली की शहादत की पुष्टि की है।
ज्ञात रहे कि अफ़ग़ानिस्तान के हरात में शीया विद्वानों की टार्गेट किलिंग कोई नई बात नहीं है।इससे पहले भी मुहम्मदिया मस्जिद के ख़तीब हुज्जतुलइस्लाम अज़ीज़ुल्लाह नजफ़ी को तकफ़ीरी आतंकवादियों ने फ़ायरिंग करके शहीद कर दिया था।
अफ़ग़ान सिक्योरिटी संस्थाओं नें शहीद होने वाले शीया विद्वानों के क़ातिलों को गिरफ़्तार करने के लिए कुछ भी नहीं किया है।
हरात की कम्युनिटी ने तकफ़ीरी आतंकवादियों के हाथों शीया विद्वानों की टार्गेट किलिंग के ख़िलाफ़ प्रदर्शन शुरू किया है जिसमें शामिल होने वालों का कहना है कि काबुल सरकार ने तकफ़ीरियों को खुली छूट दी हुई है, जबकि विद्वानों के क़ातिलों को सज़ा देने के मामले में सरकार ख़ामोश है।


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*

conference-abu-talib
सुप्रीम लीडर आयतुल्लाह ख़ामेनई का हज संदेश
We are All Zakzaky