स्कूल प्रशालन ने हिजाब पहनने पर लगाई रोक, मुसलमानों में रोष।

स्कूल प्रशालन ने हिजाब पहनने पर लगाई रोक, मुसलमानों में रोष।

बाराबंकी जिले के एक स्कूल की प्रिंसिपल ने भी एक मुस्लिम छात्रा को कथित रूप से एक फरमान जारी किया था कि वह या तो स्कार्फ न पहने या फिर किसी मुस्लिम संस्थान में दाखिला ले ले.....

अबनाः इस्लामोफोबिया की चर्चा अन्य जगहों पर सुनने को मिलती थी, लेकिन यह चीज अब हमारे देश में भी लगातार देखने को मिल रही है। जिसकी ताजा मिसाल महाराष्ट्र है। जहां ठाणे में स्थित सिम्बायोसिस कॉन्वेन्ट हाई स्कूल प्रशासन ने छात्राओं की सुरक्षा की बात कहते हुए मुस्लिम छात्राओं के हिजाब पहनने पर रोक लगा दी है।
रिपोर्ट के मुताबिक, इस महीने की शुरुआत में ही स्कूल प्रशासन ने एक सर्कूलर जारी कर निर्देश दिया था कि छात्राओं को स्कूल के अंदर अपने चेहरे को ढकने की इजाजत नहीं होगी। सर्कूलर में कहा गया था कि स्कूल परिसर छोड़ने तक ऐसा नहीं कर सकती हैं
गौरतलब है इससे पहले भी कई ऐसी घटनाएँ हो चुकी है जिनका हालिया मिसाल उत्तर प्रदेश के बाराबंकी जिले की है जहां के एक मिशनरी स्कूल की प्रिंसिपल ने एक मुस्लिम छात्रा को कथित रूप से एक फरमान जारी किया था कि वह या तो स्कार्फ न पहने या फिर किसी मुस्लिम संस्थान में दाखिला ले ले।


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*

सुप्रीम लीडर आयतुल्लाह ख़ामेनई का हज संदेश
پیام امام خامنه ای به مسلمانان جهان به مناسبت حج 2016
We are All Zakzaky