नमाज़ का विरोध के बाद हरियाणा वक्फ बोर्ड की मांग, हमारी जमीनों से कब्ज़ा हटाये सरकार

नमाज़ का विरोध के बाद हरियाणा वक्फ बोर्ड की मांग, हमारी जमीनों से कब्ज़ा हटाये सरकार

हरियाणा के गुरुग्राम में खुले में नमाज पढ़ने को लेकर मामला अभी शांत होता नज़र नहीं आ रहा है। खुले में नमाज पढ़ने पर राज्य सरकार ने लोगों को चेतवनी दी थी की लोग मस्जिदों में नमाज़ पढ़े

अबनाः हरियाणा के गुरुग्राम में खुले में नमाज पढ़ने को लेकर मामला अभी शांत होता नज़र नहीं आ रहा है। खुले में नमाज पढ़ने पर राज्य सरकार ने लोगों को चेतवनी दी थी की लोग मस्जिदों में नमाज़ पढ़े । वही  अब हरियाणा वक्फ बोर्ड ने गुरुग्राम के जिला प्रशासन को पत्र लिखकर अपनी 20 संपत्तियों से अतिक्रमण हटवाने की गुहार लगाई है।
वक्फ बोर्ड ने सोमवार को जिला प्रशासन को पत्र लिखा। पत्र में उन्होंने गुहार लगाई कि, गुरुग्राम में हमारी 20 संपत्तियां अतिक्रमण की शिकार है। जिसे प्रशसान मुक्त करवाए।
आपको बता दें कि इससे पहले अनिल विज ने सोमवार को मीडिया से बात करते हुए कहा था कि, ‘कभी-कभार अगर किसी को जरूरत पड़ जाती है तो धर्म की आजादी है लेकिन किसी जगह को कब्जा करने की नीयत से नमाज पढ़ना गलत है। उसकी इजाजत नहीं दी जा सकती है।’ इससे पहले सीएम खट्टर ने कहा था, ‘यह हमारी ड्यूटी है कि कानून और व्यवस्था को बनाया रखा जाए। खुले में नमाज पढ़ने का प्रचलन बढ़ा है। सार्वजनिक स्थानों पर नमाज पढ़ने की बजाय मस्जिद और ईदगाह में जाना चाहिए।’


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*

आशूरा: सृष्टि का राज़
सुप्रीम लीडर आयतुल्लाह ख़ामेनई का हज संदेश
We are All Zakzaky