बहरैन, नागरिकों के विरुद्ध सरकार की दमनात्मक कार्यवाहियां जारी।

 बहरैन, नागरिकों के विरुद्ध सरकार की दमनात्मक कार्यवाहियां जारी।

अबू सैबह, अलक़शअ, अश्शाख़ूरा और दूसरे अन्य क्षेत्रों की जनता ने एक बार फिर प्रदर्शन करके, बहरैनी धर्मगुरुओं और धार्मिक नेताओं की तुरंत रिहाई की मांग की है

अबनाः बहरैन में आले ख़लीफ़ाा शासन के विरुद्ध जनता के प्रदर्शनों का क्रम जारी है।
बहरैनी सूत्रों के अनुसार अबू सैबह, अलक़शअ, अश्शाख़ूरा और दूसरे अन्य क्षेत्रों की जनता ने एक बार फिर प्रदर्शन करके, बहरैनी धर्मगुरुओं और धार्मिक नेताओं की तुरंत  रिहाई की मांग की है।
प्रदर्शनकारियों ने जेलों में बंद धर्मगुरुओं के साथ अपनी पूर्ण एकजुटता की घोषणा की है। प्रदर्शनकारियों ने इसी के साथ आयतुल्लाह शैख़ ईसा क़ासिम के साथ एकजुटता की घोषणा करते हुए मांग की कि उनके विरुद्ध अत्याचारपूर्ण कार्यवाहियों का क्रम तुरंत बंद किया जाए।
बहरैन के एक पूर्व सांसद जलाज फ़िरोज़ के अनुसार राजनैतिक क़ैदियों के लेहाज़ से बहरैन इस समय दुनिया में पहले नंबर पर है। उन्होंने कहा कि इस समय बहरैन की जेलों में पांच हज़ार से अधिक राजनैतिक क़ैदी बंद हैं। बताया जाता है कि जेलों में राजनैतिक क़ैदियों को बहुत बुरी स्थिति में रखा जा रहा है।
बहरैन की शाही सरकार ने इसी के साथ मानवाधिकार का व्यापक हनन का क्रम जाी रखके देश को एक बड़े जेलख़ाने मेें बदल दिया है। बहरैन से मिलने वाली रिपोर्टें बताती हैं कि भीषण गर्मी में बहरैनी सरकार, बिजली की लंबी कटौती द्वार भी जनता को परेशान कर रही है।


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*

Arba'een
आशूरा: सृष्टि का राज़
सुप्रीम लीडर आयतुल्लाह ख़ामेनई का हज संदेश
We are All Zakzaky