ज़ायोनी सेना द्वारा निहत्थे फ़िलिस्तीनी मुसलमानों पर हमला।

ज़ायोनी सेना द्वारा निहत्थे फ़िलिस्तीनी मुसलमानों पर हमला।

कुछ विद्यार्थियों ने इस्राईल की सेना के ख़िलाफ़ नारेबाजी की जिसके बाद इस्राईली सिक्योरिटी फ़ोर्सेस और फ़िलिस्तीनी जवानों के बीच बाक़ायदा झड़पें शुरू हो गई

अहलेबैत (अ) न्यूज़ एजेंसी अबनाः प्राप्त सूत्रों के अनुसार फ़िलिस्तीनी स्वास्थ्य मंत्री का कहना है कि अलबेरा नामक क्षेत्र में ज़ायोनी सेना के हमलों में कम से कम 8 निहत्थे फ़िलिस्तीनी मुसलमान घायल हो गए हैं जिनमें से एक की हालत चिंताजनक है।
रिपोर्ट के अनुसार रामल्लाह में कुछ विद्यार्थियों ने इस्राईल की सेना के ख़िलाफ़ नारेबाजी की जिसके बाद इस्राईली सिक्योरिटी फ़ोर्सेस और फ़िलिस्तीनी जवानों के बीच बाक़ायदा झड़पें शुरू हो गई।
फ़िलिस्तीनी विद्यार्थी अपने अध्यापक उमर केस्वानी की ग़ैरक़ानूनी हिरासत के विरोध में प्रदर्शन कर रहे थे।
विद्यार्थियों ने मांग की कि गै़रकानूनी और बिना किसी जुर्म के कै़द किये जाने वाले मुसलमानों को छोड़ दिया जाए।
फ़िलिस्तीनी विद्यार्थी ज़ायोनी सेना पर पथराव कर रहे थे और इस्राईली सैनिक बेदर्दी से गोलियां बरसा रहे थे।
रिपोर्ट के अनुसार ज़ायोनी सेना ने सहायता करने वाली टीमों पर भी आंसू गैस के गोले फेंके जिसके परिणाम स्वरुप कई अन्य लोग भी घायल हो गए।


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*

सुप्रीम लीडर आयतुल्लाह ख़ामेनई का हज संदेश
We are All Zakzaky