हरीरी को बंधक बनाए जाने के बाद अरब लीग में लेबनान की सदस्यता को ख़तराः लेबनान समाचार पत्र

हरीरी को बंधक बनाए जाने के बाद अरब लीग में लेबनान की सदस्यता को ख़तराः  लेबनान समाचार पत्र

अगर लेबनान हिज़बुल्लाह का समर्थन नहीं छोड़ता है तो अरब लीग में उसकी सदस्यता खतरे में पड़ सकती है।

अहलेबैत (अ )न्यूज़ एजेंसी अबना : प्राप्त सूत्रों के अनुसार लेबनान के मशहूर समाचार पत्र ने अरबिक डिप्लोमेटिक सूत्रों से बताया है कि रियाद ने क़ाहिरा में इतवार को अरब लीग के विदेश मंत्रियों की एक महत्वपूर्ण मीटिंग करवाई। इन सूत्रों के अनुसार सऊदी अरब का दावा यह है कि हिज़बुल्लाह यमन में अंसारुल्लाह आंदोलन का फ़ेवर कर रही है, और उन तक मिसाइल पहुंचा रही है।
 अतः हम अरब लीग के सभी देशों से यह चाहते हैं कि वह क़ाहिरा सभा में हिज़बुल्लाह के इस कृत्य की आलोचना करें, एवं साथ ही सऊदी अरब यह भी चाहता है कि खुद लेबनान सरकार भी यह आलोचना करे।
 अगर लेबनान हिज़बुल्लाह का समर्थन नहीं छोड़ता है तो अरब लीग में उसकी सदस्यता खतरे में पड़ सकती है।
 


सम्बंधित लेख

अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*

conference-abu-talib
सुप्रीम लीडर आयतुल्लाह ख़ामेनई का हज संदेश
We are All Zakzaky