5 लाख वर्ग किलोमीटर के क्षेत्रफल में सैन्य अभ्यास हो रहा है

5 लाख वर्ग किलोमीटर के क्षेत्रफल में सैन्य अभ्यास हो रहा है

यह सैन्य अभ्यास पिछले वर्षों के सैन्य अभ्यास से भिन्न है और इसमें मिसाइलों और रक्षा के दूसरे संसाधनों का परीक्षण किया जायेगा। यह सैन्य अभ्यास इस समय की चुनौतियों को दृष्टि में रखकर किया जा रहा है।

"मुदाफेआने आसमाने विलायत 97" शीर्षक के अंतर्गत एअर डिफेन्स सैन्य अभ्यास आयोजित हो रहा है। यह सैन्य अभ्यास 5 लाख वर्ग किलोमीटर के क्षेत्रफल में आयोजित रहा है।

इस सैन्य अभ्यास के समन्वयकर्ता एडमिरल हबीबुल्लाह सय्यारी ने इसके उद्देश्यों के बारे में कहा कि कम से कम समय में रक्षा उपकरणों को देश के दूरस्थ क्षेत्रों में स्थापित करना, दुश्मन को पता लगाकर उसे तबाह करना और युद्ध की दूसरी इलेक्ट्रांनिक क्षमताओं का परीक्षण भी इस सैन्य अभ्यास में किया जायेगा।

यह सैन्य अभ्यास पिछले वर्षों के सैन्य अभ्यास से भिन्न है और इसमें मिसाइलों और रक्षा के दूसरे संसाधनों का परीक्षण किया जायेगा। यह सैन्य अभ्यास इस समय की चुनौतियों को दृष्टि में रखकर किया जा रहा है।

"वाशिंग्टन थिंक टैंक" ने ईरान की प्रतिरक्षा क्षमता के बारे में अपनी रिपोर्ट में लिखा है कि ईरान ने हवाई प्रतिरक्षा के क्षेत्र में ध्यान योग्य सफलता प्राप्त कर ली है जबकि मध्यपूर्व अध्ययन केन्द्र के रूसी प्रमुख मैक्सिम शूचिन्को ने भी कहा है कि ईरान के पास मध्यपूर्व की सबसे अधिक शक्तिशाली सेना है और इस देश की सशस्त्र सेना ने विभिन्न प्रकार के आधुनिकतम हथियार बना लिये हैं जिनके हम ईरानी सेनाओं के युद्धाभ्यास में साक्षी हैं।

इस बात में कोई संदेह नहीं है कि ईरान की सशस्त्र सेना मौजूद चुनौतियों को दृष्टि में रखकर रक्षा तैयारियां करेगी और ईरान का एअर डिफेन्स सिस्टम भी जल, थल और वायु में दुश्मनों की गतिविधियों पर पैनी नज़र रखे हुए है।


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*

सुप्रीम लीडर आयतुल्लाह ख़ामेनई का हज संदेश
We are All Zakzaky