जनरल क़ासिम सुलेमानी

फ़िलिस्तीन का सहयोग और इस्राईल से मुक़ाबला ईरान की धार्मिक और नैतिक ज़िम्मेदारी।

फ़िलिस्तीन का सहयोग और इस्राईल से मुक़ाबला ईरान की धार्मिक और नैतिक ज़िम्मेदारी।

अगर जनता की भरपूर सेवा की जाए तो फिर हमारे खिलाफ़ दुनिया की सभी साज़िशें नाकाम हो जाएंगी, क्योंकि उस समय हमारे पास अस्सी मिलयन सैनिक मौजूद होंगे

अहलेबैत (अ ) न्यूज़ एजेंसी अबनाः प्राप्त सूत्रों के अनुसार इस्लामिक रिपब्लिक ईरान की इस्लामिक रेवोल्यूशनरी गॉर्ड कॉर्प्स (आई. आर.जी. सी) के मेजर जनरल क़ासिम सुलेमानी ने कहा है कि फ़िलिस्तीन का सहयोग और इस्राईल का मुक़ाबला ईरान की धार्मिक और नैतिक ज़िम्मेदारी है।
उन्होंने कहा कि हमें आंतरिक संकट पर काबू पाने के लिए संघर्ष, कोशिश, बलिदान और बहादुरी की आवश्यक्ता है।
जनरल क़ासिम सुलेमानी ने कहा कि किसी ने मेरी तारीफ़ करते हुए मुझे मालिके अश्तर से मिलाया है लेकिन मैंने इस तारीफ़ पर कोई ध्यान नहीं दिया और स्वयं को इन महान हस्तियों के सामने तुच्छ समझत हूं और उमीद है कि अल्लाह मुझे इसका बदला देगा।
उन्होंने कहा कि अगर जनता की भरपूर सेवा की जाए तो फिर हमारे खिलाफ़ दुनिया की सभी साज़िशें नाकाम हो जाएंगी, क्योंकि उस समय हमारे पास अस्सी मिलयन सैनिक मौजूद होंगे।
 


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*

Arba'een
आशूरा: सृष्टि का राज़
सुप्रीम लीडर आयतुल्लाह ख़ामेनई का हज संदेश
We are All Zakzaky