कर्बला वालों को विश्व की कोई सेना या ताक़त पराजित नहीं कर सकती, ईरानी वरिष्ठ कमांडर

कर्बला वालों को विश्व की कोई सेना या ताक़त पराजित नहीं कर सकती, ईरानी वरिष्ठ कमांडर

ईरान की इस्लामी क्रांति की सेना आईआरजीसी ने सऊदी अरब और संयुक्त अरब इमारात को कड़ी चेतावनी देते हुए कहा है कि तेहरान, उन्हें कभी न भूलने वाला सबक़ सिखा सकता है।

शुक्रवार को आईआरजीसी के उप प्रमुख जनरल हुसैन सलामी ने सऊदी अरब और यूएई को संबोधित करते हुए कहा, अगर उन्होंने ईरान की लाल रेखाओं को पार करने का प्रयास किया तो ईरानी सेना उनकी लाल रेखाओं को पार करने में किसी तरह की हिचकिचाहट से काम नहीं लेगी।

जनरल सलामी ने ईरानी राष्ट्र के उत्साह और शक्ति का उल्लेख करते हुए कहा, आठ वर्षीय ईरान-इराक़ युद्ध के दौरान, विश्व भर की बड़ी शक्तियों ने सद्दाम का समर्थन किया, लेकिन वह ईरान का बाल भी बीका नहीं कर पाया।

उन्होंने कहा, ईरान ने इमाम हुसैन (अ) के आंदोलन और आशूरा से प्रेरणा ली और वह विश्व साम्राज्यवाद के मुक़ाबले में डट गया। जिस देश की जनता और सेना इमाम हुसैन के आंदोलन से प्रेरणा लेती है, उसे विश्व की कोई सेना नहीं हरा सकती।

आईआरजीसी के वरिष्ठ कमांडर का कहना था कि दुश्मनों ने ईरान पर इस्लामी क्रांति को जड़ से उखाड़ फेंकने के लिए हमला किया था, लेकिन उनके सपनों पर पानी फिर गया और आज ईरान मध्यपूर्व का ही नहीं बल्कि विश्व का एक शक्तिशाली देश है।

अहवाज़ की हालिया आतंकवादी घटना का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा, दुश्मन देश में साम्प्रदायिक उन्माद फैलाना चाहते थे, लेकिन इसके विपरीत यह हमला एकता और एकजुटता का कारण बना।

जनरल सलामी ने अमरीका, इस्राईल, सऊदी अरब और यूएई को चेतावनी देते हुए कहा, हम शहीदों के ख़ून की एक एक बूंद का बदला लेंगे और हमारा बदला दुश्मनों को पछताने पर मजबूर कर देगा।

उन्होंने कहा, यह समय क्षेत्र में आतंकवाद और उनके समर्थकों की पराजय का समय है, यही कारण है कि वह अब आम लोगों को निशाना बना रहे हैं।

जनरल सलामी का कहना था कि आज अमरीका पूरी तरह से हार चुका है, उसके घटक एक एक करके उसका साथ छोड़ रहे हैं। तुर्की, अमरीकी नीतियों के मुक़ाबले में डट गया है, पाकिस्तान ने अमरीकी नीतियों से ख़ुद को दूर करना शुरू कर दिया है। अमरीका और रूस के बीच शीत युद्ध की फिर से शुरूआत हो चुकी है, आर्थिक युद्ध में चीन, उसे मात दे रहा है। अमरीका सुकड़ रहा है, इसके विपरीत क्षेत्र और विश्व में ईरान की आध्यात्मिक शक्ति का विस्तार हो रहा है।


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*

सुप्रीम लीडर आयतुल्लाह ख़ामेनई का हज संदेश
We are All Zakzaky