हज़रत आयतुल्लाह ख़ामेनई के सलाहकार और ईरानी सांस्कृतिक परिषद के सदस्य हद्दाद आदिल भारत के दौरे पर।

  • News Code : 815438
  • Source : अबना
Brief

भारत के उप राष्ट्रपति मोहम्मद हामिद अंसारी ने बैठक में कहा कि ईरान और भारत के संबंधों का इतिहास बहुत पुराना है और दोनों देशों के बीच गहरे सांस्कृतिक और संयुक्त भाषा का संबंध इस बात का कारण बने हैं कि दोनों देशों के राजनीतिक और आर्थिक संबंधों को भी बढ़ावा दिया जाए

अहलेबैत न्यूज़ एजेंसी अबना रिपोर्ट के अनुसार भारत के उप राष्ट्रपति मोहम्मद हामिद अंसारी ने बैठक में कहा कि ईरान और भारत के संबंधों का इतिहास बहुत पुराना है और दोनों देशों के बीच गहरे सांस्कृतिक और संयुक्त भाषा का संबंध इस बात का कारण बने हैं कि दोनों देशों के राजनीतिक और आर्थिक संबंधों को भी बढ़ावा दिया जाए।
इस बैठक में उत्तरी और पश्चिमी एशिया में आतंकवाद और उससे मुक़ाबले के तरीकों और उपमहाद्वीप में फ़ारसी भाषा और साहित्य को बढ़ावा देने और ईरान और भारत के बीच सांस्कृतिक संबंधों में विस्तार पर भी बातचीत हुई।
इस बैठक के समापन पर ईरान के फ़ारसी भाषा और साहित्य परिषद के प्रमुख ग़ुलाम अली हद्दाद आदिल ने भारत के उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी को ईरान आने की दावत दी।
ज्ञात रहे कि ईरान के सांस्कृतिक और साहित्यिक व्यक्तित्व और ईरानी पार्लियामेंट के पूर्व स्पीकर डॉक्टर ग़ुलाम अली हद्दाद आदिल, भारत के मशहूर फ़ारसी शायर बेदिल देहलवी पर अलीगढ़ मुस्लिम युनिवर्सिटी में होने वाले इंटरनेशनल सेमिनार में भाग लेने के लिए भारतीय दौरे पर हैं।
यह तीन दिवसीय सेमिनार ईरान और भारत की साहित्यिक और सांस्कृतिक संगठनों और संस्थाओं के सहयोग से हो रहा है जो गुरुवार तक जारी रहेगा। इस सेमिनार में ईरान, भारत, अफ़ग़ानिस्तान, और ताजिकिस्तान के एक सौ चालीस सहित्यिक हस्तियों, शोधकर्ताओं और फारसी भाषा और साहित्य से संबंधित विद्वान मौजूद हैं


सम्बंधित लेख

अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*

پیام امام خامنه ای به مسلمانان جهان به مناسبت حج 2016
We are All Zakzaky