बहरैन, शेख़ ईसा क़ासिम की नागरिकता रद्द, घेराबंदी बढ़ाई गई।

बहरैन, शेख़ ईसा क़ासिम की नागरिकता रद्द, घेराबंदी बढ़ाई गई।

बहरैन की दिखावी अदालत नें वरिष्ठ शिया धर्मगुरू शेख़ ईसा क़ासिम की नागरिकता रद्द करते हुए उनके लिए एक साल की क़ैद की सज़ा सुनाई है।

अहलेबैत (अ )न्यूज़ एजेंसी अबनाः रिपोर्ट के अनुसार सोमवार को बहरैन की दिखावी अदालत नें वरिष्ठ शिया धर्मगुरू शेख़ ईसा क़ासिम की नागरिकता रद्द करते हुए उनके लिए एक साल की क़ैद की सज़ा सुनाई है।
बहरैनी सेना ने दिखावी अदालत के इस ग़ैर कानूनी अत्याचारी फ़ैसले की कॉपी शेख़ ईसा क़ासिम के घर वालों को सौंप दी है। इस फ़ैसले में शेख़ ईसा क़ासिम के माल और दौलत को भी जब्त करने का ऑर्डर दिया गया है। रिपोर्टों में बताया गया है कि बहरैनी सेना ने न्यायालय के फ़ैसले की कॉपी शेख़ ईसा क़ासिम के घर वालों को सौंपने के साथ ही उनके घर की घेराबंदी कड़ी कर दी गई है।
याद रहे कि बहरैन की अत्याचारी शाही सरकार के विरुद्ध फ़ररी 2011 से बहरैनी जनता क्रांति कर रही है। उस समय से अब तक अत्याचारी शाही सरकार, बेबुनियाद आरोप लगा कर ग्यारह हज़ार से अधिक  बहरैनी नागरिकों की नागरिकता रद्द करके उन्हें जिलावतन कर चुकी है।      



सम्बंधित लेख

अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*

आशूरा: सृष्टि का राज़
सुप्रीम लीडर आयतुल्लाह ख़ामेनई का हज संदेश
We are All Zakzaky