सऊदी अरब की बंदरगाह पर यमन का बैलिस्टिक मिसाइल हमला

सऊदी अरब की बंदरगाह पर यमन का बैलिस्टिक मिसाइल हमला

ह्यूमन राइट्स वॉच की ओर से कहा गया है कि सऊदी अरब यमन में हवाई हमले के दौरान क्लस्टर बम का प्रयोग कर रहा है और सऊदी अरब ने इससे पहले भी कई बार निहत्थे यमनी मुसलमानों पर इन हथियारों का इस्तेमाल किया है।

अहलेबैत (अ )न्यूज़ एजेंसी अबनाः  प्राप्त सूत्रों के अनुसार यमन की सरकारी सेना एवं स्वयं सेवी फ़ोर्सेस ने जीज़ान की एक विशेष बंदरगाह को बदर 1 नामक बैलिस्टिक मिसाइल से निशाना बनाया है।
ज्ञात रहे कि यमन की सेना मार्च के महीने से अब तक सऊदी अरब के विशेष शहरों खासकर नजरान और असीर पर 40 से अधिक बैलिस्टिक मिसाइल दाग़े हैं। यमन की सरकार का कहना है कि जब तक सऊदी संगठन हवाई हमले बंद नहीं करेंगे तब तक जवाबी कार्यवाई भी जारी रहेगी।
रिपोर्ट के अनुसार यमन की मिसाइल और आर्टलरी यूनिट ने सऊदी सेना के 1 केंद्र पर भी भीषण गोलाबारी की है हालांकि इसमें किसी नुक़सान की कोई सूचना नहीं है।
दूसरी ओर सऊदी अरब के किराए के लड़ाकू विमानों ने सअदा पर क्लस्टर बम गिराए हैं और काफी नुक़सान की सूचना है।
 ह्यूमन राइट्स वॉच की ओर से कहा गया है कि सऊदी अरब यमन में हवाई हमले के दौरान क्लस्टर बम का प्रयोग कर रहा है और सऊदी अरब ने इससे पहले भी कई बार निहत्थे यमनी मुसलमानों पर इन हथियारों का इस्तेमाल किया है।


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*

Quds cartoon 2018
We are All Zakzaky