धार्मिक नेतृत्व के सम्मान में प्रधानमंत्री पद छोड़ने को हूं तैयारः अलाबादी

धार्मिक नेतृत्व के सम्मान में प्रधानमंत्री पद छोड़ने को हूं तैयारः अलाबादी

हैदर अलएबादी ने कहा है कि धार्मिक नेतृत्व का सम्मान करते हुए मैंने प्रधानमंत्री पद ग्रहण न करने का फैसला किया है।

इराक़ के वर्तमान प्रधानमंत्री हैदर अलएबादी ने कहा कि धर्मगुरुओं के सम्मान और देश की राजनैतिक प्रक्रिया को सुचारू रूप से चलाने के उद्देश्य से मैंने आगे प्रधानमंत्री का पद ग्रहण न करने का फैसला किया है।  यह बात उन्होंने गुरूवार की रात कही है।  हैदर अलएबादी ने कहा कि मैं प्रधानमंत्री पद पर बने रहने का इच्छुक नहीं हूं बल्कि मेरी इच्छा है कि देश की राजनैतिक प्रक्रिया सुचारू रूप में चलती रहे।

उन्होंने अपनी सरकार की उपलब्धियों को गिनाते हुए कहा कि पिछले तीन वर्षों के दौरान हमने देश को एेसी सेना देने में सफलता हासिल की जो उचित ढंग से इराक़ की सुरक्षा करने में सक्षम है।  हैदर अलएबादी ने कहा कि हर प्रकार के उतार-चढ़ाव के बावजूद हमने इराक़ को एकजुट रखने के लिए अथक प्रयास किये।

इराक़ के प्रधानमंत्री हैदर अलएबादी ने दक्षिणी इराक़ के बसरा नगर के हालिया परिवर्तनों की ओर संकेत करते हुए कहा कि मैं स्वयं इस बात को मानता हूं कि बसरा के लोगों को बहुत ही चीज़ों की ज़रूरत है किंतु यह भी कहूंगा कि इन समस्याओं के समाधान के उद्देश्य से जो नीति अपनाई गई वह दुरूपयोग वाली नीति थी।


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*

सुप्रीम लीडर आयतुल्लाह ख़ामेनई का हज संदेश
We are All Zakzaky