ट्रम्प की तानाशाही जारी, रूस और चीन की कंपनियों पर लगाए प्रतिबंध

ट्रम्प की तानाशाही जारी, रूस और चीन की कंपनियों पर लगाए प्रतिबंध

अमरीकी राष्ट्रपति ट्रम्प की प्रतिबंध लगाने की बीामारी बढ़ती जा रही है, इस बार उनकी बीमारी का शिकार हुई रूस और चीन की कंपनियां

पीटीआई के अनुसार अमेरिका के वित्त मंत्रालय ने उत्तर कोरिया पर लगे आर्थिक प्रतिबंधों का उल्लंघन करने के आरोप में रूस और चीन की कंपनियों पर प्रतिबंध लगाए हैं।

अमरीकी वित्त मंत्रालय ने चीन के डालियान सन मून स्टार इंटरनेशनल लॉजिस्टिक्स ट्रेडिंग कॉरपोरेशन और इससे संबद्धित सिंगापुर की एसआईएनएसएमएस पीटीई पर आरोप लगाया है कि उन्होंने उत्तर कोरिया में अल्कोहल और सिगरेट पहुंचाने के लिए फर्जी दस्तावेज जमा किए।  अमरीकी वित्त मंत्रालय का आरोप है कि प्योंगयांग सरकार को सिगरेट के ‍अवैध कारोबार से प्रत्येक साल एक अरब डॉलर का लाभ होता है।

अमेरिका ने रूस की कंपनी प्रोफीनेट पीटीई पर भी प्रतिबंध लगाया है। इस कंपनी पर आरोप है कि उसने पूर्वी रूस के तीन बंदरगाहों पर उत्तर कोरिया के तीन पोतों को ईंधन भरने और माल लादने की सुविधा मुहैया कराई।  जानकारों का मानना है कि परमाणु कार्यक्रम को लेकर अमेरिका, उत्तर कोरिया पर दबाव बनाए रखना चाहता है।


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*

सुप्रीम लीडर आयतुल्लाह ख़ामेनई का हज संदेश
We are All Zakzaky