ईरान को धमकी देना मूर्खता हैः अमेरिका के पूर्व रक्षामंत्री

ईरान को धमकी देना मूर्खता हैः अमेरिका के पूर्व रक्षामंत्री

अमेरिका के पूर्व प्रतिरक्षामंत्री ने स्वीकार किया कि सीरिया में शांति स्थापित करना ईरानियों और रूसियों की सहकारिता के बिना संभव नहीं है।

अमेरिका के पूर्व रक्षामंत्री चक हैगल ने इस देश की वर्तमान सरकार की नीतियों की आलोचना करते हुए कहा है कि ईरान को धमकी देना मूर्खता है।

उन्होंने गुरूवार को अमेरिकी सरकार के अधिकारियों को संबोंधित करते हुए कहा कि अगर यह सोचते हो कि ईरान, सीरिया या रूस को धमकी देकर कुछ करा लोगे तो मूर्खता है।

अमेरिका के पूर्व प्रतिरक्षामंत्री ने स्वीकार किया कि सीरिया में शांति स्थापित करना ईरानियों और रूसियों की सहकारिता के बिना संभव नहीं है।

इससे पहले अमेरिकी सेना के चीफ़ आफ आर्मी स्टाफ जोसेफ वोटेल ने कहा था कि ईरान से मुकाबले के लिए वाइट हाउस की ओर से कोई आदेश नहीं मिला है और सीरिया में अमेरिकी सैनिकों की कार्यवाहियों आधार वही है जो पहले था।  

अमेरिका ने आतंकवादी गुट दाइश से मुकाबले के बहाने वर्ष 2014 में अमेरिकी सैनिकों को सीरिया भेज दिया और सीरिया में उत्तर पूर्व में कुर्द आवासीय क्षेत्रों में दो हज़ार अमेरिकी सैनिक मौजूद हैं।

अमेरिकी अधिकारी सीरिया में इन सैनिकों की तैनाती के लक्ष्यों के बारे में विरोधाभासी बयान देते हैं।

सीरिया में अमेरिकी सैनिकों की उपस्थिति व तैनाती दमिश्क सरकार की अनुमति के बिना हुई है और सदैव उसकी आलोचना की जाती रही है।


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*

Arba'een
आशूरा: सृष्टि का राज़
सुप्रीम लीडर आयतुल्लाह ख़ामेनई का हज संदेश
We are All Zakzaky