आतंकवाद से अमरीकी संघर्ष ने पांच लाख से अधिक लोगों की जान ले लीः विदेशमंत्री

आतंकवाद से अमरीकी संघर्ष ने पांच लाख से अधिक लोगों की जान ले लीः विदेशमंत्री

इस्लामी गणतंत्र ईरान के विदेशमंत्री मुहम्मद जवाद ज़रीफ़ ने ट्वीट किया है कि आतंकवाद से अमरीकी संघर्ष ने 5 लाख से अधिक लोगों की जान ले ली।

मुहम्मद जवाद ज़रीफ़ ने शुक्रवार को अपने ट्वीट में कहा कि अमरीका ने आतंकवाद से तथाकथित संघर्ष के नाम पर केवल 2016 से अब तक एक लाख 10 दस हज़ार से अधिक लोगों की जान ले ली।

विदेशमंत्री ने लिखा कि इराक़, सीरिया, लीबिया और यमन में तबाही अमरीकी कार्यवाहियों का परिणाम हैं और दाइश तथा अलक़ायदा से जुड़े अन्य आतंकवादी गुटों का अस्तित्व में आना भी अमरीका की ही देन है।

विदेशमंत्री ने अपने ट्वीट में लिखा कि आतंकवाद से तथाकथित अमरीकी संघर्ष के कारण अमरीकियों को भारी ख़र्चे का बोझ बढ़ा और इस प्रकार से सात हज़ार अमरीकी मारे गये और पांच ट्रिलियन छह सौ अरब डाॅलर  का ख़र्चा उठाना पड़ा।

इससे पहले ईरान के विदेशमंत्री ने ईरानी जनता के विरुद्ध अमरीकी प्रतिबंधों के दोबारा लागू किए जाने पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि मानवता के विरुद्ध अपराध करने के कारण अमरीका पर महाभियोग चलाया जाना चाहिए और उसके विरुद्ध क़ानूनी कार्यवाही होनी चाहिए। 

ईरान के विदेशमंत्री डाक्टर मुहम्मद जवाद ज़रीफ़ ने अपने ट्वीटर हैंडल पर लिखा कि अमरीकी विदेशमंत्री माइक पोम्पियो, ईरानी सरकार को वाशिंग्टन के ग़ैर क़ानूनी प्रतिबंधों के परिणाम के ज़िम्मेदार क़रार दे रहे हैं जिनके कारण बैंकिंग सर्विस स्थगित हो गयी है और परिणाम में ईरानी जनता को खाद्य पदार्थ और दवाओं तक पहुंच में समस्याएं हो रही हैं।

ईरानी विदेशमंत्री ने कहा कि ईरानी सरकार, अमरीका के समस्त प्रतिबंधों के बावजूद आवश्यक दवाएं और खाद्य पदार्थ करेगी किन्तु अमरीका पर इस कार्यवाही के लिए महाभियोग चलाया जाना चाहिए।


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*

सुप्रीम लीडर आयतुल्लाह ख़ामेनई का हज संदेश
We are All Zakzaky