जीवन की समस्याएं

  • News Code : 424870
  • Source : विलायत डाट इन
Brief

आज टीचर फिर क्लास में गिलास ले कर आए लेकिन इस बार उन्होंने कुछ अनोखे ढ़ंग से नया पाठ पढ़ाया। उन्होंने गिलास को हाथ में उठाया और स्टूडेंट्स से पूछा: इस गिलास का वज़न कितना होगा? यह बहुत भारी है या बिल्कुल हल्का?

आज टीचर फिर क्लास में गिलास ले कर आए लेकिन इस बार उन्होंने कुछ अनोखे ढ़ंग से नया पाठ पढ़ाया। उन्होंने गिलास को हाथ में उठाया और स्टूडेंट्स से पूछा: इस गिलास का वज़न कितना होगा? यह बहुत भारी है या बिल्कुल हल्का?स्टूडेंट्स नें जवाब दिया: सर! बिल्कुल हल्का है।टीचर नें पूछा: अगर मैं कुछ मिनट तक गिलास को इसी तरह हाथ में उठाकर रखूँ तो क्या होगा?कुछ भी नहीं! एक स्टूडेंट नें जवाब दिया। और अगर मैं कई घंटे तक गिलास को हाथ में उठाकर इसी तरह खड़ा रहूँ तो क्या होगा?आपका हाथ थक जाएगा। उसमें दर्द होने लगेगा और आपको ऐसा लगने लगेगा जैसे आपने कोई बहुत ही भारी भरकम चीज़ उठा रखी है और आपमें उसे उठाने की ताक़त नहीं है। एक दूसरे स्टूडेंट नें जवाब दिया।टीचर नें पूछा: ऐसा क्यों होगा क्या इस तरह गिलास का वज़न बढ़ जाएगा?बिल्कुल नहीं! लेकिन फिर भी मेरी ताक़त कम हो गई है।हमारे जीवन की समस्याओं का हाल कुछ ऐसा ही है।हमारी समस्याएं उस गिलास की तरह हैं, उन्हें जितना ज़्यादा उठाकर रखेंगे दिमाग़ उतना ज़्यादा थक जाएगा और काम करना छोड़ देगा।फिर हम कुछ भी नहीं कर सकेंगे!इसलिये! समस्याओं के इस गिलास को उठाकर न रखें बल्कि आज ही नीचे रख दें।


conference-abu-talib
सुप्रीम लीडर आयतुल्लाह ख़ामेनई का हज संदेश
We are All Zakzaky