पश्चिमी समाज मे औरत का शोषण (4)

  • News Code : 394586
  • Source : विलायत डाट इन
पूंजीवाद पर आधारित सिस्टम तेज़ी के साथ वर्ल्ड लेविल पर भौतिकवादी सोच के साथ क़ब्ज़ा कर चुका है, एक ऐसे समाज मे जहां लग-भग सबकी सोच पैदावार, सपलाई, खपत और दौलत के फ़ायदे के चारों ओर घूमती हो,

पूंजीवाद पर आधारित सिस्टम तेज़ी के साथ वर्ल्ड लेविल पर भौतिकवादी सोच के साथ क़ब्ज़ा कर चुका है, एक ऐसे समाज मे जहां लग-भग सबकी सोच पैदावार, सपलाई, खपत और दौलत के फ़ायदे के चारों ओर घूमती हो, एक औरत के स्वभाव और हैसियत की सही पहचान का अनुमान सम्भव नही है, उसकी वफ़ादारी की पवित्रता, उसके आज्ञापालन की निष्ठा, रहेमदिली की भावना, शफ़क़त की दौलत, सब्र (धैर्य) व शराफ़त और लज्जा व शर्म का नेचर तथा उसकी पर्सनालिटी से जुड़ी हुई क्षमताओं सहित दूसरी औरत की विशेषताओं को ऐसे माहौल मे अनुभव करना मुश्किल है।यह दुःख की बात है कि धन-दौलत के लाभ के लिए सेक्स की चाहत को भड़काकर आकर्षक ढंग (attractive style) से उनका शोषण किया जाता है, औरत की प्राकृतिक ख़ासियतों से नाजाएज़ फ़ायदा उठाया जा रहा है, इस लिए इस समय दुनिया मे भौतिक लाभ के लिए बहुत से दांव पेंच यहां तक कि शर्मनाक तरीक़े अपनाने की लत पड़ चुकी है, आध्यात्मिक और नेतिक व अख़लाक़ी नियमो के अन्तर्गत ज़िन्दगी गुज़ारने के तरीक़े ग़ायब होते जा रहे हैं, यहां तक कि साफ़ तौर पर एड्ज़ की बीमारी का फैलाव 37% तक अनैतिक सेक्स के कारण होता है, फिर भी नंगापन और सेक्सी नज़ारों और आवाज़ों को सही समझ कर आडियो विज़ुअल (audio visual) विज्ञापन के माध्यम से भड़काते रहने मे तेज़ी आती जा रही है। अनैतिक सेक्स सम्बन्ध (homosexuality) को कई अमेरिकी व यूरोपीय मुल्कों मे क़ानूनी अधिकार दिया गया है, जो खुले तौर पर पूरी तरह उसूल के ख़िलाफ़ है और ह्यूमन राईट्स के साथ धोखाधड़ी है, हमारे समाज मे औरतों को कड़ी मुश्किलों का सामना है, शादी के लिए नौकरी पेशा औरतों को स्वभाव, कैरेक्टर व सूरत पर नौकरी को वरीयता दी जाती है, कुछ इलाक़ों मे देखने मे आता है कि लालची मर्द और लालची औरतें निकाह करने और तलाक़ लेने को बिजनेस बना चुके हैं, नन्हे बच्चे इस समाजी गिरावट के बुरी तरह शिकार हो रहे हैं, नौनिहालों को फ़िल्मों के माध्यम से क़त्ल, डकैती और दूसरे अपराधों की ट्रेनिंग दी जा रही है, इलेक्ट्रानिक मीडिया से बर्बादी और विनाशकारी नक़्क़ाली को हवा मिलती जा रही है, इस माहौल मे इंसान का नफ़्स गिरावट की ओर जा रहा है।..........166


conference-abu-talib
सुप्रीम लीडर आयतुल्लाह ख़ामेनई का हज संदेश
We are All Zakzaky